Dnyan

खाली पड़ी जमीन में सोने का अंडे देने वाला बिजनेस, इस तरह शुरू करे, कुछ ही दिनों में डबल होगा मुनाफा

यदि आप अपना पैसा बैंक, एफडी या किसी और निवेश विकल्प में नहीं डालना चाहते है लेकिन फिर भी पैसे से पैसा बनाने की कोई स्कीम खोज रहे है तो आज हम आपको एक ऐसी स्कीम के बारे में बता रहे है 
 | 
zxz

यदि आप अपना पैसा बैंक, एफडी या किसी और निवेश विकल्प में नहीं डालना चाहते है लेकिन फिर भी पैसे से पैसा बनाने की कोई स्कीम खोज रहे है तो आज हम आपको एक ऐसी स्कीम के बारे में बता रहे है जिससे आप काफी लाभ ले सकते है। आप एक खाली पड़ी जमीन को उस पैसे के लिए इस्तेमाल कर सकते है किसी भी अन्य निवेश की तरह लम्बी अवधि से इससे आप जबरदस्त लाभ कमा सकते है। 

हम बात यहाँ अर्जुन के पेड़ की बात कर रहे है। यह पेड़ अपने औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है। इस पेड़ की छाल से काढ़ा बनता है जिसका इस्तेमाल बुखार के समय किया जा सकता है। इसके साथ ही यह बैड कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में भी काफी हद तक मदद करता है। 

इस पेड़ की लकड़ी का इस्तेमाल आप फर्नीचर बनाने के लिए भी कर सकते है। इस पेड़ में भरपूर मात्रा में औषधीय गुण पाए जाते है। ऐसे में आप इसकी छाल का इस्तेमाल कई रोगो के लिए इलाज के लिए कर सकते है यह हार्ट से जुड़ी हुई बीमारियों को तुरंत निजात दिलाता है। 

WhatsApp Group (Join Now) Join Now

इसे उगाने के लिए इसके बीजों को 3-4 दिन तक पानी में डुबाकर रखना होता है। यह 8 से 9 दिन में अंकुरित होते हैं। इसके बाद इन्हें खेत में ले जाकर बुआई कर सकते हैं। आप यदि अर्जुन के पेड़ की ग्रोथ अच्छी चाहते हैं तो खेत में जलनिकासी की व्यवस्था अच्छी होनी चाहिए। 

Telegram Group (Join Now) Join Now

अर्जुन के पेड़ की बुआई गर्मियों में की जाती है। यह 47 डिग्री तक के तापमान में अच्छा विकास करता है। इसके लिए बलुई दोमट और जलोढ़-कछारी मिट्टी बेहतर होती है। इसे ऐसी जगह ही लगाया जाना चाहिए जहां सीधी धूप आती हो। 

अर्जुन का पेड़ 15-16 साल में बनकर तैयार होता है। एक अच्छे अर्जुन के पेड़ की लंबाई 12 मीटर और मोटाई 89 मीटर तक जा सकती है। इसकी छाल की कीमत बाजार में हजारों रुपये प्रति किलो होती है। इससे फर्नीचर मार्केट में इसकी लकड़ की डिमांड रहती है। ऐसे में आप 1 एकड़ में अर्जुन के पेड़ लगाकर लंबी अवधि में लाखों-करोड़ों रुपये का मुनाफा बना सकते हैं।