Dnyan

ANM full form in Hindi : एएनएम क्या हैं? जाने विस्तृत में

 | 
ANM full form in Hindi : एएनएम क्या हैं? जाने विस्तृत में

हर कोई व्यक्ति चाहता है कि उसको अपने कैरियर में सफलता प्राप्त हो। लेकिन आजकल कैरियर चुनने का जहा सवाल आता है तो सबके दिमाग में बड़ा कंफ्यूजन सा रहता है। बहुत कम लोग ऐसे होते हैं, जो ना केवल अपने बारे में सोच कर समाज की सेवा करने के बारे में भी सोचते हैं। समाज की सेवा करने के लिए आप अगर कैरियर सुनना चाहते हैं। एएनएम का ऑप्शन बहुत बेहतरीन ऑप्शन है। 

ANM का कोर्स करके आपको मानव सेवा करने का मौका प्राप्त होगा। एएनएम एक मेडिकल से जुड़ा हुआ कोर्स होता है का फुल फॉर्म क्या होता है एएनएम का कोर्स कितने साल का होता है और इसमें किस तरह की जॉब आप कर सकते हैं इन सभी सवालों के जवाब आपको हम यहां बताने वाले हैं तो आइए जानते हैं ANM full form in Hindi..

WhatsApp Group (Join Now) Join Now

एएनएम का फुल फॉर्म ANM full form in Hindi

एएनएम का फुल फॉर्म हिंदी में सहायक नर्स डाई होता है एएनएम को इंग्लिश में auxiliary nursing midwifery होता है। पहले के समय में सुख सुविधाओं के अभाव की वजह से जो मरीज की सेवा करने में टाइम दाई निभाती थी। 

  • A - auxiliary
  • N - nursing
  • M - midwifery

आज उसी में थोड़ा बदलाव होकर स्वास्थ्य क्षेत्र में उसका नाम एएनएम कर दिया गया है। एएनएम का काम हो जिम्मेदारी वाला होता है। नर्स का काम बहुत जिम्मेदारी वाला होता है। जोकि डॉक्टर के साथ बहुत जिम्मेदारी से किया जाता है। डॉक्टर के साथ मेडिकल भाषा में और आम आदमी के साथ भी सही तरीके से बात करने का काम नर्स करती है। एक तरह से कहा जाए तो डॉक्टर और रोगी के बीच एक कड़ी का काम करती है।

Telegram Group (Join Now) Join Now

एएनएम की जरूरत

हमारे देश में ग्रामीण क्षेत्र और शहरी क्षेत्र में सामुदायिक स्वास्थ्य को और भी अच्छे तरीके से बढ़ावा देने के लिए, वहां तक बेहतर स्वास्थ्य संबंधित सुविधाओं को पहुंचाने का काम, पूरा करने की जिम्मेदारी एएनएम बहुत अच्छे से निभाती है। या यूं कहे कि इस जिम्मेदारी के काम में एएनएम की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका होती है। 

ग्रामीण क्षेत्रों में तो महिलाओं के स्वास्थ्य की पूरी जिम्मेदारी एएनएम के द्वारा ही सही तरीके से निभाई जाती है। उनका काम रोगी की देखभाल करना, उनको स्वस्थ बनाने का काम करना, भावात्मक रूप से उन को मजबूती प्रदान करना है। ताकि वह किसी भी तरह की बड़ी बीमारी से लड़ने के लिए खुद को समर्थ बना सके, और अपने अंदर धैर्य स्थापित करें

ANM कैसे बने

एएनएम का कोर्स करने के लिए 12 वीं पास होना जरूरी है उसके बाद आप एएनएम का कोर्स कर सकते हैं यह कोर्स 2 साल की अवधि का होता है।

एएनएम का कोर्स करने के लिए 17 साल से 35 साल तक की उम्र की अवधि निश्चित की गई है आप किसी भी अच्छे मेडिकल कॉलेज से इस कोर्स को करके डिग्री प्राप्त कर सकते हैं