Dnyan

अगर आप भी बचना चाहते अगले साल इनकम टैक्स से तो अभी अपनाए ये तरीका

Income tax : आज के समय मे हर व्यक्ति चाहता है कि उसको टैक्स ना देना पड़े। अगर आप भी अगले साल टैक्स से बचाना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द यह काम कर लेना चाहिएl जिससे कि आप लोग टैक्स से बच सकें l क्युकी अक्सर ऐसा देखा गया है कि कम सैलरी वाले व्यक्ति को टैक्स भरने में दिक्कत होती है l
 | 
income tax

Income tax : आज के समय मे हर व्यक्ति चाहता है कि उसको टैक्स ना देना पड़े। अगर आप भी अगले साल टैक्स से बचाना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द यह काम कर लेना चाहिएl जिससे कि आप लोग टैक्स से बच सकें l क्युकी अक्सर ऐसा देखा गया है कि कम सैलरी वाले व्यक्ति को टैक्स भरने में दिक्कत होती है l

 साल 2022- 23 को खत्म होने में अब कुछ ही महीने बाकी हैं, आप लोगों ने इस साल जो भी टैक्स दिया है,या नहीं दिया है वह तो अब टैक्स चला ही गया l लेकिन टेंशन तो अगले साल की है कि आप लोगों को अगले साल कितना टैक्स देना पड़ेगा l

आज के समय मे हर व्यक्ति जो भी व्यापार करता है जैसे- शेयर बाजार हो, या प्रॉपर्टी का काम, हो या फिर गोल्ड में निवेश करना, मुनाफा कमाने के मकसद से ही किए जाते हैंl लेकिन यह जरूरी नहीं कि हमें हर काम में मुनाफा ही मिलेl इन्वेस्टमेंट में भी व्यक्ति को कई बार घाटा उठाना पड़ जाता हैl खास तौर पर शेयर मार्केट में पैसे इन्वेस्ट करने में सबसे ज्यादा घाटे होने की आशंका बनी रहती है l

WhatsApp Group (Join Now) Join Now

RBI की गाइडलाइंस, अब मिलेगी EMI वालों को बड़ी राहत 

कितनी बार ऐसा देखा गया है कि आपका इन्वेस्टमेंट पोर्टफोलियो भले ही मुनाफे में चल रहा होl पर उसमे शामिल होने वाले एक दो निवेश वित्तीय वर्ष के अंतिम समय में घाट दिखा रहे होते हैं l आमतौर पर निवेशकों को अपने पोर्टफोलियो का यह रिश्ता देखकर तकलीफ होती हैl लेकिन हम आपको आज कुछ ऐसा बताने जा रहे हैं जिससे पोर्टफोलियो का घाटे वाला हिस्सा भी आपको कुछ ना कुछ राहत दे सकता है l

"टैक्स लॉस हार्वेस्टिंग के द्वारा कम होगा नुकसान का दर्द 

आईए जानते हैं आखिर टैक्स लॉस हावेस्टिंग क्या है l जब आप अपने शेयर और म्युचुअल फंड का इस्तेमाल अपनी इनकम टैक्स की देनदारी में कमी लाने के लिए कर सकते है l तो इस प्रकार ही टैक्स बचाने की रणनीति को ही टैक्स लॉस हार्वेस्टिंग (Tax loss harvesting)कहा जाता है l

टैक्स लॉस हार्वेस्टिंग के कारण की घाटा दे रहे निवेश को हमें नुकसान उठा कर बेचना पड़ जाता है l इस ट्रांजैक्शन में हुए नुकसान को हम किसी मुनाफे वाले निवेश पर बुक किए गए प्रॉफिट से पूरा कर सकते हैंl उसके बाद हमारी देनदारी घट जाती है l